क्लास 9 हिंदी संचयन

मेरा छोटा सा निजी पुस्तकालय

धर्मवीर भारती

NCERT Solution

Question 1: लेखक का ऑपरेशन करने से सर्जन हिचक क्यों रहे थे?

उत्तर: लेखक के दिल का साठ प्रतिशत हिस्सा बेकार हो गया था और केवल चालीस प्रतिशत हिस्सा ही काम कर रहा था। सर्जन को लगता था कि ऑपरेशन करने के बाद लेखक का दिल फिर से काम नहीं कर पाएगा। इसलिए वे लेखक का ऑपरेशन करने से हिचक रहे थे।

Question 2: ‘किताबों वाले कमरे’ में रहने के पीछे लेखक के मन में क्या भावना थी?

उत्तर: लेखक को लगता था कि जैसे परीकथाओं में राजा के प्राण किसी तोते में बसते हैं वैसे ही लेखक के प्राण उन किताबों में बसते थे। इसलिए लेखक अपने ‘किताबों वाले कमरे’ में रहना चाहते थे।


Question 3: लेखक के घर में कौन-कौन सी पत्रिकाएँ आती थीं?

उत्तर: आर्यमित्र साप्ताहिक, वेदोदम, सरस्वती, गृहिणी, बालसखा और चमचम

Question 4: लेखक को किताबें पढ़ने और सहेजने का शौक कैसे लगा?

उत्तर: लेखक के बचपन में उनके घर में कई पत्रिकाएँ और किताबें आतीं थीं। लेखक को उन्हें पढ़ने के लिए प्रोत्साहन मिलता था। इस तरह से उन्हें पढ़ने का शौक लगा। लेखक को अंग्रेजी में अव्वल नम्बर लाने के कारण स्कूल से पुरस्कार के रूप में दो किताबें मिलीं थी। लेखक के पिताजी ने आलमारी में एक खाना खाली कर दिया। उन्होंने लेखक से कहा कि अब से वह खाना लेखक की लाइब्रेरी हो गई। उसी के बाद से लेखक को किताबें सहेजने का शौक लगा।

Question 5: माँ लेखक की स्कूली पढ़ाई को लेकर क्यों चिंतित रहती थी?

उत्तर: लेखक जितना मन लगाकर अन्य किताबें पढ़ते थे उतना ध्यान लगाकर कोर्स की किताबें नहीं पढ़ते थे। इसलिए उनकी माँ उनकी स्कूली पढ़ाई को लेकर चिंतित रहती थीं।


Question 6: स्कूल से इनाम में मिली अंग्रेजी की दोनों पुस्तकों ने किस प्रकार लेखक के लिए नयी दुनिया के द्वार खोल दिए?

उत्तर: एक किताब में चिड़ियों की दुनिया के बारे में बड़े रोचक ढ़ंग से बतलाया गया था। दूसरी किताब में जहाजों, नाविकों, समंदर और समुद्री जीवों के बारे में बताया गया था। वे सब बातें लेखक के लिए बिलकुल नई थीं। इस तरह से उन दोनों किताबों ने लेखक के लिए नई दुनिया के द्वार खोल दिए।

Question 7: ‘आज से यह खाना तुम्हारी अपनी किताबों का। यह तुम्हारी अपनी लाइब्रेरी है’ – पिता के इस कथन से लेखक को क्या प्रेरणा मिली?

उत्तर: पिता के इस कथन से लेखक को किताबें सहेजने की प्रेरणा मिली।


Question 8: लेखक द्वारा पहली पुस्तक खरीदने की घटना का वर्णन अपने शब्दों में कीजिए।

उत्तर: लेखक की माँ चाहती थीं कि लेखक फिल्मों से दूर रहें, क्योंकि वे फिल्मों के दुष्प्रभाव से चिंतित रहती थीं। एक बार जब लेखक एक फिल्मी गाना गा रहे थे तो उनकी माँ ने कहा कि लेखक को कोई फिल्म देख आनी चाहिए। लेखक दो रुपए लेकर फिल्म देवदास देखने गये। सिनेमा हॉल के पास किताब की एक दुकान दिखी। दुकान पर उन्हें शरत चंद्र चट्टोपाध्याय की पुस्तक ‘देवदास’ दिख गई। लेखक ने फिल्म देखने की बजाय उस किताब को खरीदना बेहतर समझा। इस तरह लेखक ने पहली पुस्तक खरीदी।

Question 9: ‘इन कृतियों के बीच अपने को कितना भरा-भरा महसूस करता हूँ’ – का आशय स्पष्ट कीजिए।

उत्तर: इस पाठ से स्पष्ट है कि लेखक को किताबों से गहरा लगाव है। अपनी पूरी जिंदगी में लेखक ने हजारों किताबें खरीदी है। उन किताबों से उनका निजी पुस्तकालय भरा पड़ा है। अपनी उस अकूत संपत्ति को देखकर लेखकर को बड़ी तसल्ली होती थी।