सबसे सुंदर लड़की

विष्णु प्रभाकर

इस कहानी के लेखक हैं विष्णु प्रभाकर। इस कहानी के मुख्य पात्र हैं एक कलाकार, एक लड़का और दो लड़कियाँ। इस कहानी में एक लड़की को दूसरी लड़की से ईर्ष्या हो जाती है क्योंकि पहली लड़की में इतनी हिम्मत नहीं है कि वह दूसरी लड़की की तरह लहरों के साथ खेल सके। एक बार जब अपने आप को सिद्ध करने की कोशिश में पहली लड़की (मंजरी) लहरों में कूदने की कोशिश करती है तो वह डूबते-डूबते बचती है। दूसरी लड़की ((कनक) और उसका दोस्त (हर्ष) उसकी जान बचाते हैं। इससे मंजरी को अपनी गलती का अहसास होता है और वह जन्मदिन में मिले उपहार को कनक को दे देती है। मंजरी का मानना है कि कनक ही उस उपहार की असली हकदार है क्योंकि कनक ही सबसे सुंदर लड़की है। इस कहानी के माध्यम से यह बतलाया गया है कि असली सुंदरता रूप रंग में नहीं बल्कि कर्मों से होती है।


वाक्य जोड़ो

नमूना:
सहेलियाँ नाचती हैं। वे गाती भी हैं।

सहेलियाँ नाचती-गाती हैं।

(क) लहरें उछलती हैं। वे कूदती भी हैं।

उत्तर: लहरें उछलती-कूदती हैं।

(ख) सब बच्चे हँसते हैं। वे खेलते भी हैं।

उत्तर: सब बच्चे हँसते-खेलते हैं।

(ग) मेरी माँ पढ़ना जानती है। वह लिखना भी जानती हैं।

उत्तर: मेरी माँ पढ़ना-लिखना जानती हैं।

कहानी से

प्रश्न 1: हर्ष और कनक छोटे होने पर भी समुद्र की लहरों में कैसे तैर सकते थे?

उत्तर: हर्ष और कनक समुद्र के किनारे ही पले बढ़े थे। उनके माता-पिता के व्यवसाय के कारण उन्हें रोज समुद्र में खेलने का मौका मिलता था। इसलिए हर्ष और कनक छोटे होने पर भी समुद्र की लहरों में तैर सकते थे।

प्रश्न 2: हर्ष का पिता क्या काम करता था?

उत्तर: हर्ष का पिता समुद्र से शंख, कौड़ियाँ, रंग बिरंगे पत्थर, आदि निकालता था। उन सुंदर और अजीबो गरीब चीजों से वह खिलौने और माला बनाता था। फिर वह उन खिलौनों और मालाओं को पास के शहर में बेचता था।

प्रश्न 3: कनक छोटे-छोटे शंखों की मालाएँ बनाकर क्यों बेचती थी?

उत्तर: कनक के पिता एक दिन मछली पकड़ने गये थे तो डूब गये और उनकी मृत्यु हो गई। कनक की माँ मछली बेचकर अपने परिवार को पालती थी। अपनी माँ का हाथ बटाने के उद्देश्य से कनक छोटे-छोटे शंखों की मालाएँ बनाकर बेचती थी।


प्रश्न 4: मंजरी को कनक क्यों नहीं भाती थी?

उत्तर: मंजरी किसी अन्य स्थान से छुट्टियाँ मनाने आई थी। इसलिए वह कनक की तरह लहरों की सवारी नहीं कर पाती थी। इसलिए वह कनक से जलती भुनती थी।

प्रश्न 5: मंजरी ने कनक को अपना खिलौना क्यों दे दिया?

उत्तर: जब कनक ने मंजरी की जान बचाई तो मंजरी को पता चला कि असली सुंदरता क्या होती है। अपनी कृतज्ञता जताने के लिए मंजरी ने कनक को अपना खिलौना दे दिया।

रिक्त स्थान भरो

नमूना: गुड़िया जैसी सुंदर

(क) दूध जैसा

उत्तर: दूध जैसा सफेद

(ख) हाथी जैसा

उत्तर: हाथी जैसा विशाल

(ग) रात जैसा

उत्तर: रात जैसा काला

(घ) रुई जैसा

उत्तर: रुई जैसा हल्का

(ङ) चीनी जैसा

उत्तर: चीनी जैसा मीठा




Copyright © excellup 2014