9 हिंदी क्षितिज

साँवले सपनों की याद

जाबिर हुसैन

NCERT Solution

Question 1: किस घटना ने सालिम अली के जीवन की दिशा को बदल दिया और उन्हें पक्षी प्रेमी बना दिया?

उत्तर: सालिम अली के बचपन में उनकी एअरगन से एक गौरैया की मौत हो गई थी। उसी घटना ने उनके जीवन की दिशा को बदल दिया और उन्हें पक्षी प्रेमी बना दिया?

Question 2: सालिम अली ने पूर्व प्रधानमंत्री के सामने पर्यावरण से संबंधित किन संभावित खतरों का चित्र खींचा होगा कि जिससे उनकी आँखें नम हो गई थीं?

उत्तर: सालिम अली ने साइलेंट वैली पर रेगिस्तानी हवाओं से होने वाले दुष्प्रभावों की आशंका को बताया होगा। उन्होंने वहाँ पर मृदा अपरदन के बढ़ते खतरे, पर्यावरण के नुकसान और वन्य जीवों को होने वाले नुकसानों के बारे में बताया होगा।


Question 3: लॉरेंस की पत्नी फ्रीडा ने ऐसा क्यों कहा होगा कि “मेरी छत पर बैठने वाली गौरैया लॉरेंस के बारे में ढ़ेर सारी बातें जानती है?”

उत्तर: लॉरेंस का व्यक्तित्व किसी अथाह सागर की तरह रहा होगा, जिसे समझना किसी आम इंसान के लिए असंभव हो। इसलिए फ्रीडा को लगता होगा कि शायद उनके छत पर बैठने वाली गौरैया को लॉरेंस के बारे में उनसे ज्यादा पता होगा। फ्रीडा को लगता होगा कि वह लॉरेंस के बारे में कुछ भी लिखकर उनके साथ पूरा न्याय नहीं कर पातीं।

Question 4: आशय स्पष्ट कीजिए:

  • वो लॉरेंस की तरह, नैसर्गिक जिंदगी का प्रतिरूप बन गए थे।

    उत्तर: जिस तरह लॉरेंस नैसर्गिक जिंदगी के बारे में लिखा करते थे उसी तरह सालिम अली ने अपना सारा जीवन प्रकृति को समर्पित कर दिया था।
  • कोई अपने जिस्म की हरारत और दिल की धड़कन देकर भी उसे लौटाना चाहे तो वह पक्षी अपने सपनों के गीत दोबारा कैसे गा सकेगा।

    उत्तर: जब किसी के शरीर से एक बार प्राण निकल जाता है तो फिर ऐसी कोई भी युक्ति नहीं है कि मृत शरीर में प्राण फूँके जाएँ।
  • सालिम अली प्रकृति की दुनिया में एक टापू बनने की बजाए अथाह सागर बनकर उभरे थे।

    उत्तर: सालिम अली का दायरा बहुत बड़ा था, किसी अथाह सागर की तरह।

Question 5: इस पाठ के आधार पर लेखक की भाषा-शैली की चार विशेषताएँ बताइए।

उत्तर: लेखक की भाषा दिखने में बड़ी सरल लगती है। लेकिन वह चंद शब्दों में ही गूढ़ बात कहने की महारत रखते हैं। इस छोटी सी रचना में उन्होंने इतनी अधिक बातें कही हैं जैसे गागर में सागर को समा दिया हो।

Question 6: इस पाठ में लेखक ने सालिम अली के व्यक्तित्व का जो चित्र खींचा है उसे अपने शब्दों में लिखिए।

उत्तर: सालिम अली प्रकृति को पूरी तरह समर्पित थे। पक्षियों के लिए उनका प्रेम तो जग जाहिर है। सालिम अली अपने काम की धुन में सबकुछ भूल जाते थे। अपने लक्ष्य को पूरा करने के लिए वे किसी भी हद तक जा सकते थे।


Question 7: ‘साँवले सपनों की याद’ शीर्षक की सार्थकता पर टिप्पणी कीजिए।

उत्तर: साँवले सपने का तात्पर्य दुखभरी यादों से है। इस लेख में लेखक किसी की मौत पर शोक व्यक्त कर रहा है। इसलिए इस लेख का शीर्षक उपयुक्त है।