दीवानों की हस्ती

NCERT Solution

कविता से

प्रश्न 1: कवि ने अपने आने को ‘उल्लास’ और जाने को ‘आँसू बनकर बह जाना’ क्यों कहा है?

उत्तर: जब कोई दीवाना किसी जगह पर जाता है तो अपने साथ मस्ती का आलम लेकर पहुँचता है। उसके व्यक्तित्व और व्यवहार से लोगों में खुशी भर जाती है। इसलिए जब कोई दीवाना किसी जगह से विदा होता है तो लोग उदास हो जाते हैं। इसलिए कवि ने अपने आने को ‘उल्लास’ और जाने को ‘आँसू बनकर बह जाना’ कहा है।

प्रश्न 2: भिखमंगों की दुनिया में बेरोक प्यार लुटानेवाला कवि ऐसा क्यों कहता है कि वह अपने हृदय पर असफलता का एक निशान भार की तरह लेकर जा रहा है? क्या वह निराश है या प्रसन्न है?

उत्तर: भिखमंगों की दुनिया में बेरोक प्यार लुटाने के बावजूद कवि को लगता है कि दीवाने अन्य लोगों में उदारता की इस भावना को भरने में असफल हो जाते हैं। इसलिए दीवाने उस असफलता को अपने दिल से लगा कर बैठते हैं।

प्रश्न 3: कविता में ऐसी कौन सी बात है जो आपको सबसे अच्छी लगी?

उत्तर: मुझे इस कविता का वह हिस्सा पसंद आया जहाँ कवि कहता है “जग से उसका कुछ लिए चले, जग को अपना कुछ दिए चले”। हर व्यक्ति अपने जीवन के दौरान इस दुनिया से कुछ न कुछ लेता और इस दुनिया को कुछ न कुछ दे जाता है। कवि एक तरह से एक सार्वभौम सत्य बतला रहा है।



Copyright © excellup 2014