शहीद झलकारी बाई

इस नाटक में झाँसी की रानी लक्ष्मीबाई और अंग्रेजों के बीच होने वाले युद्ध के समय की एक महत्वपूर्ण घटना को दिखाया गया है। अंग्रेजी सेना ने लक्ष्मीबाई के किले को चारों तरफ से घेर लिया है। महल के भीतर लक्ष्मीबाई अपने विश्वस्त सिपहसलारों और नाना साहेब के साथ मंत्रणा कर रही हैं। कुछ लोगों का मानना है कि किसी तरह से बचकर निकल लिया जाये ताकि भविष्य के लिए सेना संगठित करने का काम किया जा सके। लक्ष्मीबाई का मानना है कि चूहों की तरह छुपे रहने का कोई लाभ नहीं, इसलिए शेरों की तरह अंग्रेजों पर टूट पड़ना चाहिए। इसी बीच नारी सेना की सेनापति झलकारी बाई आती है। वह रानी के कपड़े पहनकर लक्ष्मीबाई का वेश धारण करती है। योजना बनती है कि जबतक लक्ष्मीबाई के वेश में झलकारी बाई अंग्रेजी सेना को उलझाकर रखेगी उसी बीच लक्ष्मीबाई वहाँ से बचकर निकल जायेंगी। ऐसा ही होता है और युद्ध में झलकारी बाई डटकर अंग्रेजों का मुकाबला करती हैं। अंत में झलकारी बाई परास्त हो जाती हैं और वीरगति को प्राप्त होती हैं।


पाठ से

प्रश्न 1: झलकारीबाई ने लक्ष्मीबाई से किस चीज की माँग की और क्यों?

उत्तर: झलकारीबाई ने लक्ष्मीबाई से उनके कपड़े, कलगी और पगड़ी की माँग की। वह चाहती थी कि लक्ष्मीबाई का वेश धारण करके अंग्रेजों पर आक्रमण करे। जब तक वह अंग्रेजी सेना को उलझाकर रखती उस बीच लक्ष्मीबाई को वहाँ से बचकर निकलने का मौका मिल जाता।

प्रश्न 2: ‘जनरल! झाँसी की रानी को जिंदा पकड़ना तुम्हारे बूते की बात नहीं है।‘ यह किसने, किससे और क्यों कहा?

उत्तर: यह झलकारीबाई ने जनरल रोज से कहा क्योंकि वह आश्वस्त थी कि तब तक लक्ष्मीबाई वहाँ से निकल चुकी होंगी।

प्रश्न 3: झलकारीबाई का क्या हुआ?

उत्तर: झलकारीबाई अंग्रेजों से लड़ते हुए शहीद हो गई।


खोजबीन

प्रश्न 1: आजादी की लड़ाई में हिस्सा लेने वाली कुछ महिलाओं के नाम बताओ।

उत्तर: सरोजिनी नायडू, रानी चेनम्मा, अरुणा आसफ अली

प्रश्न 2: रानी लक्ष्मीबाई के बारे में सुभद्रा कुमारी चौहान की एक प्रसिद्ध कविता तुमने पढ़ी या सुनी होगी। उसकी कुछ पंक्तियाँ कॉपी में लिखो।

उत्तर: बुंदेले हरबोलों के मुँह हमने सुनी कहानी थी।

खूब लड़ी मर्दानी वह तो झाँसी वाली रानी थी।

प्रश्न 3: झलकारीबाई, लक्ष्मीबाई की हमशक्ल थी। तुम्हारे विचार से हमशक्ल होने के क्या-क्या लाभ या हानि हो सकते हैं?

उत्तर: अक्सर राजनैतिक रूप से शक्तिशाली लोग अपने हमशक्ल का इस्तेमाल करते हैं। आधुनिक युग में ऐसा अक्सर तानाशाह शासक करता है। हमशक्ल के इस्तेमाल से वह अपने आप की हत्या होने की रोकथाम करता है। आम जीवन में हमशक्ल होने से कई बार अजीब स्थिति उत्पन्न हो जाती है। मान लीजिए कि दो जुड़वा भाई हैं राम और श्याम। ऐसे में शरारत राम करता है और पिटाई श्याम की हो जाती है।




Copyright © excellup 2014